Automated Weather Stations: सरकार मौसम की जानकारी के लिए कस्बों और गांव में लगाएगी 450 ऑटोमेटिक वेदर स्टेशन

Automated Weather Stations: मौसम की अकारण गतिविधियों से हर साल किसानो की लाखो रूपये की पैदावार में नुकसान होता है, मौसम की सही सुचना समय पर नहीं मिलने से किसानो को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. किसानो को मौसम की इन समस्याओ से बचाने के लिए यूपी सरकार ने अपने राज्य में 450 ऑटोमेटिक वेदर स्टेशन बनाने का निर्णय लिया है.

ऑटोमेटिक वेदर स्टेशन से किसानो को मौसम की हर गतिविधि का पूर्वानुमान पता चलेगा, और मौसम की स्टिक जानकारी मिलेगी. इस प्रक्रिया में 2000 ऑटोमेटिक रेन गेज भी बनाये जायेंगे और निगरानी के लिए 80 कर्मचारियों को तैनात किया जायेगा.

इन्तजार हुआ अब खत्म, प्रधानमंत्री किसान सम्मन निधि योजना की 15वी क़िस्त इस दिन होगी जारी, देखे लिस्ट में नाम

ऑटोमेटिक वेदर स्टेशन (Automated Weather Stations)

सरकार के ऑटोमेटिक वेदर स्टेशन सिस्टम से मौसम की गतिविधि का पूर्वानुमान लग जाने से किसान अपनी फसल को बेमौसम बारिश के साथ-साथ आंधी तूफान से कुछ हद तक बचा पाने में सक्षम होगा. इस प्रक्रिया में यूपी र्स्ज्य की सरकार को 142.16 करोड़ रुपए का भार आएगा, बजट यूपी सरकार ने जारी कर दिया है.

मौसम की सही जानकारी

ऑटोमेटिक वेदर स्टेशन से स्थानीय स्तर पर म,औसम की सही जानकरी मिल पायेगी, साथ में ही यूपी सरकार द्वारा डॉपलर वेदर रडार भी लगाने की योजना है। इस सिस्टम से एक्सपर्ट के अनुसार बारिश की दिशा, गति, हवा की तेज रफ्तार और बवंडर की कौन सी दिशा से उठेगा आदि के बारे में उपयोगी जानकारी मिल सकेगी.

बिना किसी गारंटी में पाए सिर्फ 5 मिनट में 50 हजार रुपये से 10 लाख रुपये तक का मुद्रा लोन, ऐसे करें अप्लाई

बजट जारी किया गया

यूपी सरकार ने इस प्रक्रिया में तेजी लाने के लिय राहत विभाग से 2000 ऑटोमेटिक रेन गेज, 80 कर्मचारी और 450 ऑटोमेटिक वेदर स्टेशन के लिए 142.16 करोड रुपए का बजट भी जारी कर दिया गया है।

Some Error