किसानों और श्रमिकों के लिए सरकार ने शुरू की श्रमिक पेंशन योजना, देखे केसे मिलेगा इसका फायदा

सरकार किसने और श्रमिकों के लिए अक्सर कई प्रकार की योजनाएं चलाती रहती है। इसी को देखते हुए छत्तीसगढ़ की सरकार ने प्रदेश के पंजीकृत श्रमिकों के लिए मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक पेंशन योजना की भी शुरुआत की है, जिसके तहत एक लाख से अधिक श्रमिकों को इसका लाभ सीधे मिलने वाला है।

मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक पेंशन योजना

आपको बता दे की, सरकार द्वारा 60 साल की उम्र को पार कर चुके श्रमिकों को आजीवन ₹1500 की राशि पेंशन के रूप में देने वाली है। योजना का लाभ लेने के लिए श्रमिक का 10 साल तक पंजीकृत होना इसके लिए आवश्यक है।

इस समय छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव को देखते हुए आचार संहिता लागू होने ही वाली है, ऐसे में सरकार द्वारा एक और ऐलान किया गया है, जिसमे कृषक श्रमिक सम्मेलन में छत्तीसगढ़ के 24 लाख किसानों के खाते में राजीव गांधी न्यास योजना के तहत तीसरी किस्त की राशि भी जारी कर दी। इसके साथ छत्तीसगढ़ की सरकार ने प्रदेश के पंजीकृत श्रमिकों के लिए मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक पेंशन योजना की शुरुआत की है। इस योजना से कई किसानों और श्रमिकों को लाभ मिलने वाला है।

PPC अध्यक्ष द्वारा की गयी सरकार की तारीफ

इस मामले में पीसीसी अध्यक्ष  दीपक बैज ने में कहा,  ‘ हमारी सरकार गांव, गरीब, मजदूर, वर्ग का हित साधने का काम कर रही है। हमारी सरकार ने जनता के हित में काम कर रही है। हमारी सरकार आने के बाद कर्ज माफी, समर्थन मूल्य में धान खरीदी, आदिवासियों की जमीन वापस करने का काम किया। हमने तीजा, पोरा जैसे हमारी संस्कृति से जुड़े त्योहारों में अवकाश देने का काम किया।

अब सरकार 19 लाख किसानों के KCC लोन का ब्याज माफ करने जा रही, जानें क्या हैं इसके नियम और शर्तें

उक्त योजना में 60 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले और 10 वर्ष पूर्व पंजीबद्ध अभ्यर्थियों को 1500 रुपए प्रतिमाह पेंशन का प्रावधान किया गया है, लेकिन इस योजना में अर्हताएँ प्राप्त पंजीकृत मजदूर काफी कम है, एसे में किसानो को पंजीक्रत होंने की आवश्यकता होगी।

Some Error