जैविक खाद तैयार करने की विधि | ऑर्गनिक खाद की कीमत और लाभ

जैविक खाद एक प्रकार की उर्वरक (ऑर्गनिक खाद) होती है जो प्राकृतिक तत्वों से बनाई जाती है। यह उर्वरक मिट्टी में जीवाणुओं, फंगस, विटामिन और मिनरल आदि से भरपूर होती है। इसे जैविक खेती में खेती के लिए उपयोग किया जाता है।

जैविक खाद की उपयोगिता यह है कि यह प्राकृतिक रूप से पैदा होती है, जिससे पर्यावरण को कोई नुकसान नहीं पहुंचता है। यह मिट्टी को उर्वरक से भरपूर बनाती है और इससे फल और सब्जियों का उत्पादन बढ़ता है। इसके अलावा, जैविक खाद का उपयोग करने से मिट्टी की फलता और जीवाणु विविधता भी बढ़ती है।

ऑर्गनिक खाद की कुछ सामान्य प्रकार हैं जैसे की गोबर खाद, वर्मी कम्पोस्ट, फूलों की खेती में खास रूप से उपयोग होने वाली फूलों की खाद, नीम का तेल आदि। इन उर्वरकों का उपयोग बचत के साथ-साथ बेहतर फसल प्रदर्शन भी सुनिश्चित करता है।

जैविक खाद का महत्व

ऑर्गनिक खाद (जैविक खाद) खेती के लिए एक महत्वपूर्ण संसाधन है। इसे प्राकृतिक तत्वों से बनाया जाता है, जो मिट्टी को स्वस्थ बनाते हैं और फसल के उत्पादकता में वृद्धि करते हैं। जैविक खाद में अनेक प्रकार के पोषक तत्व होते हैं जैसे मिट्टी के जीवांव विविधता को बढ़ाने वाले फुंदों, जैविक विटामिन, मिनरल आदि।

जैविक खाद का उपयोग करने के कई फायदे होते हैं। इसके उपयोग से खेतों में जीवाणु विविधता और मिट्टी की फलता बढ़ती है। खेत की उत्पादकता को बढ़ाती है और फसलों की गुणवत्ता में सुधार करती है। इसके अलावा, जैविक खाद का उपयोग करने से मिट्टी के जीवाणु विविधता को बढ़ाने में मदद मिलती है जो फसलों के लिए एक स्वस्थ मिट्टी का महत्वपूर्ण अंग होती है।जैविक खाद का उपयोग करने से पर्यावरण को कोई नुकसान नहीं पहुंचता है जैसे निष्क्रिय उर्वरकों का उपयोग करने पर होता है।

जैविक खाद के नाम

भारत में जैविक खाद के कुछ प्रमुख नाम निम्नलिखित हैं:

  1. गोबर खाद: यह गाय के गोबर से बनाया जाता है। यह एक उत्कृष्ट जैविक खाद है जो मिट्टी को उपजाऊ बनाता है।
  2. खाद शक्ति: यह जैविक खाद शुगर केन और शाकाहारी अपशिष्टों से बनाया जाता है। यह मिट्टी को उर्वरक की तुलना में स्वस्थ बनाता है।
  3. जीवामृत: यह जैविक खाद मूलतः कच्चे दूध, गोबर, चाशनी और जीवाणुओं के एक मिश्रण से बनाया जाता है। इसमें उच्च स्तर पर विटामिन, मिनरल और अमिनो एसिड होते हैं जो फसलों की गुणवत्ता को बढ़ाते हैं।
  4. खड़: यह समुद्री सामग्री से बनाया जाता है। यह मिट्टी को संतुलित करता है और पोषक तत्वों की मात्रा में वृद्धि करता है।
  5. नीम खाद: यह जैविक खाद नीम के बीजों से बनाया जाता है। इसमें प्राकृतिक अमिनो एसिड, मिनरल और अन्य पोषक तत्व होते हैं जो मिट्टी को स्वस्थ बनाते हैं और फसलों की उत्पादकता को बढ़ाते हैं

यह भी देखे

जैविक खाद तैयार करने की विधि

जैविक खाद को तैयार करने के लिए विभिन्न पदार्थों का उपयोग किया जाता है। इन पदार्थों में गोबर, शुगर केन और शाकाहारी अपशिष्ट शामिल होते हैं। नीचे जैविक खाद तैयार करने के एक साधारण तरीके का वर्णन दिया गया है:

  1. गोबर खाद: गोबर को पानी के साथ मिलाकर गैस निकालने के बाद उसे धूल और फंडे के साथ अच्छी तरह से मिश्रित किया जाता है। इसके बाद यह मिश्रण समय समय पर चांदी या कुछ अन्य मांगनीशील पदार्थों से संयुक्त किया जाता है।
  2. खाद शक्ति: शुगर केन और शाकाहारी अपशिष्ट को एक स्थान पर इकट्ठा करके उन्हें कई समय तक धूल, फंडे और पानी के साथ अच्छी तरह से मिश्रित किया जाता है। इसके बाद इस मिश्रण को एक समय तक आराम से फेंके रखा जाता है।
  3. जीवामृत: जीवामृत के लिए आमतौर पर एक साधारण प्रक्रिया का अनुसरण किया जाता है। इसमें गोबर, कच्चे दूध, चाशनी, जीवाणुओं और पानी का मिश्रण तैयार किया जाता है।

ऑर्गनिक खाद का प्रयोग कैसे करें?

ऑर्गेनिक खाद का प्रयोग करना बहुत सरल होता है। नीचे दिए गए स्टेप्स इस प्रक्रिया को बताते हैं:

  1. खेत की तैयारी: खेत को तैयार करने से पहले, उसमें पहले से मौजूद विषाणुओं और जीवाणुओं को हटाने के लिए उचित समय देना चाहिए। इसके बाद, खेत को खोदने और तैयार करने के लिए एक प्लाउ या कल्चर या हार्रो जैसी यंत्रों का उपयोग करें।
  2. खाद का छिड़काव: खाद को खेत में छिड़काव करने के लिए एक खाद छिड़कावर या फर्टीलाइजर स्प्रेडर का उपयोग कर सकते हैं। ध्यान दें कि खाद को खेत के ऊपर स्प्रेड करने से पहले उसे अच्छी तरह से फिल्टर करें ताकि उसमें बड़े कणों या अन्य विषाणुओं की मौजूदगी न हो।
  3. खाद को मिलाना: अधिक संख्या में उपलब्ध जैविक खादों को मिश्रित करने से उनके पोषक तत्व विविधता प्रदान करते हैं। इसके लिए, एक समान अनुपात में जीवाणुओं, गोबर खाद, शाकाहारी अपशिष्ट, शुगर केन, खड़ और अन्य जैविक खादो को मिलाना!

यह भी देखे

जैविक खाद की कीमत

जैविक खाद का कीमत विभिन्न क्षेत्रों और उपयोग के आधार पर भिन्न होता है। यह देश और क्षेत्र के अनुसार भी भिन्न होता है। इसके अलावा, खाद के विभिन्न प्रकार और उत्पादकों के विभिन्न ब्रांडों के बीच भी वितरण में अंतर हो सकता है।

मार्किट जैविक खाद में भाव 10रूपये से लेकर 16 रूपये तक है! कुछ स्थानों पर कम ज्यादा भी हो सकता है!

अक्सर, जैविक खाद की कीमत वास्तविक खाद से थोड़ी अधिक होती है क्योंकि इसके उत्पादन में ज्यादा समय और मेहनत लगती है तथा इसका उत्पादन अधिक उत्पादकता नहीं देता है। इसलिए, जैविक खाद की कीमत अलग-अलग शहरों और ब्रांडों में भिन्न हो सकती है।

इसलिए, आप अपने क्षेत्र में उपलब्ध जैविक खादों की कीमत को जानने के लिए स्थानीय कृषि उत्पाद केंद्रों या अन्य स्थानों पर सही जानकारी ले सकते हैं।

Some Error