अगर आपने इस बैंक से होम लोन, पर्सनल लोन, कार लोन लिया है तो हो जाये संचेत, आपको लगने वाला है झटका

एचडीएफसी बैंक ने विभिन्न अवधियों के लिए एमसीएलआर को 8.50 से संशोधित कर 9.25% कर दिया है। होम लोन, पर्सनल लोन, कार लोन आदि की ईएमआई बढ़ जाएगी, क्योंकि एमसीएलआर का इन सभी पर सीधा असर पड़ता है।

सबसे बड़े निजी इक्विटी बैंक ने होम लोन के लिए चुनिंदा अवधि सहित अन्य क्षेत्रों में ऋण की ब्याज हिस्सेदारी में वृद्धि की है। बैंक ने सभी ऋणों के लिए वित्तीय मूल्य आधारित ऋण दर (एमसीएलआर) में 10 आधार अंकों का बदलाव किया है। इससे लोन की मासिक किस्त बढ़ जाएगी.

राजस्थान में कब आएगी कांग्रेस उम्मीदवारों की पहली सूची, सीएम गहलोत ने बताया

क्या है एमसीएलआर

एमसीएलआर मूल न्यूनतम दर है जिसके आधार पर बैंक ग्राहकों को ऋण देते हैं। एचडीएफसी बैंक ने विभिन्न अवधियों के लिए एमसीएलआर को 8.50 से संशोधित कर 9.25 प्रतिशत कर दिया है। नई दरें सामिल हो गई हैं. गौरतलब है कि आरबीआई ने हाल ही में घोषित मौद्रिक समीक्षा नीति में रेपो रेट को बरकरार रखा था.

किसानो के लिये यूपी में कृषि संस्कृति को लेकर होने जा रहा कृषि कुंभ 2.0, नई तकनीक से अवगत होंगे करीब दो लाख किसान

बढ़ेगी मासिक किस्त: बैंकों के इस कदम से ग्राहकों पर बोझ बढ़ेगा. होम लोन, पर्सनल लोन, कार लोन आदि की ईएमआई बढ़ जाएगी, क्योंकि एमसीएलआर का इन सभी पर सीधा असर पड़ता है। जब कोई बैंक किसी ग्राहक को लोन देता है तो वह एमसीएलआर दर पर ब्याज दर वसूलता है। अगर इसमें कोई बदलाव किया जाता है तो लोन की लागत यानी ब्याज दर पर भी असर पड़ता है.

Some Error