नाबार्ड पशुपालन लोन योजना के अंतर्गत पशु खरीदने के लिए मिल रहा 12 लाख रूपये तक का लोन, यहा से करे जल्द आवेदन

ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों के लिए डेयरी फार्मिंग व्यवसाय शुरू करने के लिए सरकार द्वारा नाबार्ड पशुपालन लोन योजना  के तहत वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जा रही है. इस योजना के तहत नाबार्ड बैंकों से पशुपालक को और किसानों को कम ब्याज पर उपलब्ध कराया जा रहा है.

नाबार्ड पशुपालन लोन योजना का उद्देश्य   

नाबार्ड पशुपालन लोन योजना का मुख्य लाभ यह है की, किसान खेती के साथ साथ अन्य तरीकों से भी अपनी आई में वृद्धि कर सके. इस योजना का सागर के लिए सरकार का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसर पैदा करवाना है. वहीं डेरी उद्योगों को अधिक से अधिक बढ़ावा देना है. साथ ही किसान की आय में व्रध्ही वृधि करना सरकार का मुख्य उद्देश्य है.

नाबार्ड पशुपालन लोन योजना का लाभ  

नाबार्ड योजना के कई तरह के लाभ है, ताकि किसानों को ज्यादा से ज्यादा फायदा मिल सके इसके तहत किसानों को कम ब्याज दरों पर ऋण प्रदान किया जाता है. साथ ही लोन की अवधि भी 10 वर्ष तक तय की गई है, ताकि आराम से किसान इसका भुगतान कर सके. वही ऋण के लिए सब्सिडी भी उपलब्ध कराई गई है.

किनती मिलेगी ब्याज पर सब्सिडी

नाबार्ड पशुपालन लोन योजना के तहत ऋण की ब्याज दरें 6.5% से 9.5% तक रखी गई है. इसके साथ इसकी अवधि 10 वर्ष तक थी की गई है इस योजना के तहत SC/ST आवेदकों को 33.33% तक की सब्सिडी प्रदान की जाती है। अन्य आवेदकों को 25% तक की सब्सिडी प्रदान की जाती है। यदि कोई भी इस योजना की सब्सिडी के दायरे में आता है तो, उसे 33% और 25% तक की सब्सिडी सरकार द्वारा दी जायेगी.

योजना के लिए आवेदन कैसे करें

इस योजना में आवेदन पत्र नाबार्ड की वेबसाइट या किसी भी नाबार्ड-प्रायोजित बैंक से प्राप्त किया जा सकता है। आवेदन पत्र को संबंधित बैंक में जमा करे लोन स्वीक्रत होने पर आपको यह राशि उपलब्ध हो जायेगी.

इसके लिए आवेदकों को निम्नलिखित दस्तावेज की आवश्यकता होगी –

  • आवेदन पत्र
  • पता प्रमाण
  • आय प्रमाण
  • पशुपालन व्यवसाय योजना
  • पहचान प्रमाण

Some Error