Headlines

PM Kusum Yojana से मिलेगे 4 हजार से ज्यादा सोलर पंप, इस राज्य में आवेदन हुए शुरू

WhatsApp Group Join Now

केंद्र सरकार ने किसानो की सहायता के लिए अनेक योजना का निर्माण किया है जिसमें एक सोलर पंप योजना भी है जिसके द्वारा किसानो के सिदे लाभ दिया जाता है. जम्मू और कश्मीर के किसानो की सहायता के लिए केंद्र सरकार के द्वारा 4 हजार से ज्यादा किसानो को सोलर पंप देने का ऐलान किया है. सोलर पंप से बिजली विभाग में होने वाली बिजली की खपत को कम करने में सहायता करता है. इस योजना में 40% राज्य सरकार के द्वारा सब्सिडी दी जाती है.

पीएम-कुसुम योजना

एक आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि यह कदम प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महा अभियान (पीएम-कुसुम) योजना का हिस्सा है, जिसमें 1 किलोवाट से 15 किलोवाट तक की क्षमता वाले ग्रिड से जुड़े सौर ऊर्जा संयंत्र शामिल हैं। प्रवक्ता ने कहा कि योजना में भाग लेने वाले किसान अपनी सिंचाई जरूरतों को पूरा करने के लिए इन प्रतिष्ठानों से उत्पन्न सौर ऊर्जा का उपयोग कर सकेंगे.

सोलर पंप के फायदे

सोलर पंपें बहुत तरीके से फायदेमंद हो सकती हैं! पहले तो, वे ऊर्जा की दृष्टि से पूरी तरह से स्वतंत्र होती हैं, क्योंकि वे सूर्य की ऊर्जा का सीधा उपयोग करती हैं। इससे विद्युत बिलों में कमी होती है और यह एक सस्ता और सामर्थ्यपूर्ण विकल्प बनता है।

सोलर पंपें कृषि में भी उपयोग हो सकती हैं, खासकर सूखा क्षेत्रों में। इनका उपयोग सिंचाई के लिए किया जा सकता है, जिससे किसानों को नियमित और सतत ऊर्जा पहुंचती है और उन्हें अधिक पैदावार हो सकती है।

इसके अलावा, सोलर पंपें पर्यावरण के लिए भी अच्छी हैं, क्योंकि उनका उपयोग वायु प्रदूषण को कम करने में मदद कर सकता है और अन्य उपायों की तुलना में यह एक स्वच्छ ऊर्जा स्रोत है।

इन सभी कारणों से, सोलर पंपें एक सुस्त और सुस्त ऊर्जा स्रोत के रूप में उभर सकती हैं।

सोलर पंप से आपको बिजली से छुटकारा मिल सकता है.

WhatsApp Group Join Now

Some Error