सोमवती अमावस्या के दिन यह चीजे दान करने से हो जायेगे मालामाल, कभी नही होगी धन दौलत की कमी,,,,

हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार सोमवती अमावस्या का महत्व काफी ज्यादा देखा गया है और इस दिन ऐसे शुभ कार्य किए जाते हैं, जिनकी मदद से आप काफी अच्छा फल प्राप्त कर सकते हैं. आज हम आपको सोमवती अमावस्या के दिन से जुड़ी हुई कुछ आज ऐसी ही जानकारियां देने वाले हैं, जिसके माध्यम से आप जान पायेगे की आप किस तरह अ दान इस दिन दे सकते है.

उंझा मंडी 05 अप्रैल 2024 : जीरा, सौफ और रायडा के भाव रहे तेज

दूध चावल का करे दान

आपकी जानकारी के लिए बता दे की, सोमवती अमावस्या का दिन पितरों को प्रसन्न करने का दिन माना जाता है, इस दिन आप चंद्रमा से जुड़ी वस्तुओं को भी दान कर सकते हैं, जैसे दूध चावल खदान आप इस दिन कर सकते हैं ऐसा करने से आपके नाराज पितृ खुश होते हैं और उनका आशीर्वाद भी आपको मिलता है और वंश की वृद्धि होती है.

Aaj ka Mosam: मौसम विभाग जारी किया अलर्ट, अगले 2 घंटे में इन 3 जिलों में होगी बारिश व आंधी

काले तिल का दान

इस दिन काले तिल का दान करना काफी शुभ माना गया है, अमावस्या के दिन स्नान करने के बाद आप पितरों को ध्यान रखते हुए काले तिल का दान कर सकते हैं, इसके बाद बाकी जो भी, वस्तुएं दान करें उसके दौरान हाथ में काले तिल लेकर दान करें.

चांदी से बनी वस्तुओं का दान

अमावस्या के दिन पितरों को चांदी से बनी वस्तुओं का दान करने से पितृ काफी प्रसन्न होते हैं, क्योंकि पितृ लोक का स्थान चंद्रमा के ऊपर हिस्से में होता है, इसलिए इस दिन चांदी का दान करने की भी काफी महत्वपूर्ण माना गया है.

2 से 3 दिन में कमाई करना चाहते है ? यह फार्मूला हो सकता है फायदेमंद

पिंडदान

हिंदू धर्म में पिंडदान का काफी बड़ा महत्व है. जिन लोगों ने अपने पितरों का पिंडदान नहीं किया है,  वह लोग सोमवती अमावस्या के दिन पितरों के लिए पिंडदान जरूर करें. अमावस्या पर पिंडदान करने से पितृ दोष से मुक्ति मिलती है.

कपड़ों का दान करे

कपड़ों का दान पितृ के लिए काफी शुभ माना गया है, जिस तरह से मनुष्यों को मौसम के अनुसार कपड़ों की जरूरत होती है, उसी तरह पितरों को भी कपड़ों की जरूरत होती है. इसी कारण से सोमवती अमावस्या पर अपने पितरों को प्रसन्न करने के लिए वस्त्रों का दान करें. इसके लिए आप धोती और गमछा का दान कर सकते है।

Some Error