सरकार दे ही 7% सब्सिडी के साथ बिना ब्याज पर लोन, मोदी सरकारं ने निकाली धांसू स्कीम

सरकार ने कोरोना काल के दौरान कई तरह की योजनाएं आम लोगों को राहत प्रदान करने के लिए शुरू की थी, ऐसी ही एक योजना का नाम प्रधानमंत्री स्टेट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना है, जिसके तहत युवाओं को लोन प्रदान किया जाता है। वैसे तो इस लोन पर ब्याज लगता है, लेकिन योजना के कुछ शर्ते अगर आप निभाते हैं तो, लोन पर आपका ब्याज नहीं लगेगा। हम आपको बताने वाले है, की आखिर कैसे बिना ब्याज के लोन का आप भी फायदा उठा सकते हैं और इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

स्टेट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना

इस योजना के तहत शहरी स्टेट वेंडर के लिए माइक्रो लोन योजना शुरू की गई है, जिसके तहत 1 जून 2020 की हुई थी। इसकी शुरुआत 1 जून 2020 को हुई थी, जिसके तहत ₹50 हजार तक बिना किसी गारंटी के वेंडर को लोन प्रदान किया जाता है।

हालांकि पहली बार में आपको इस लोन की राशि 10 हजार रूपए प्रदान की जाती है, इसे 12 महीने की अवधि के दौरान भुगतान करना होता है। यदि आप इस भुगतान कर देते हैं तो आपको दूसरी बार ₹20 हजार और तीसरी बार ₹50 हजार तक का लोन बैंक द्वारा प्रदान किया जाता है। इसके साथ ही आप नियमित लोन का भुगतान करते हैं तो, आपको 7% ब्याज सब्सिडी भी मिलती है। यह रकम लगभग ₹400 की होती है, जो की सीधे आपके जनधन अकाउंट में आ जाएगी। इसके साथ ही डिजिटल लेनदेन पर प्रतिवर्ष ₹1200 तक के कैशबैक का लाभ भी उठाया जा सकता है।

50 लाख से अधिक को मिला फायदा

अभी तक इस योजना का कई लोगों ने काफी अच्छा फायदा उठाया है और अब तक 50 लाख से भी अधिक स्ट्रीट वेंडर इस योजना का लाभ ले चुके हैं, जिसका मूल्य अब तक 8,600 करोड रुपए से भी ज्यादा पहुंच चुका है। साथ ही आने वाले समय में इसके लाभार्थियों की संख्या भी बढ़ाने वाली है।

Some Error