जल्दी ख़रीदे और 3 महीने बाद बेचे, पैसा होगा डबल, मार्किट में रुतबा कायम

Suzlon Energy के शेयरों में हाल ही में तेजी का रुख रहा है। सत्र की शुरुआत में शेयरों में 1.5% की वृद्धि हुई, जो पवन ऊर्जा दिग्गज के लिए एक सकारात्मक संकेत है। इसका कारण कंपनी का मजबूत पवन ऊर्जा प्रस्ताव और बेहतर बैलेंस शीट हो सकता है, जिससे निवेशकों का विश्वास बढ़ा है। पिछले तीन महीनों में निवेशकों ने सुजलॉन के शेयरों पर अपना मुनाफा दोगुना कर लिया है, जिससे उनका आत्मविश्वास बढ़ा है।

Suzlon Energy: निवेशकों के लिए रोमांचक अवसर

पिछले तीन महीनों में Suzlon Energy के शेयरों की कीमत में वृद्धि हुई है, जिससे निवेशकों के लिए बेहतरीन अवसर मिले हैं। 5 जून 2023 को यह शेयर 11.40 रुपये पर था और महज आज इसने निवेशकों को करीब 408% का रिटर्न दिया है। यह वृद्धि कंपनी के मजबूत प्रस्ताव और बेहतर बैलेंस शीट के कारण हुई, जिससे निवेशकों का विश्वास बढ़ा। स्टॉक अब तक 400% बढ़ा है, और पिछले वर्ष की तुलना में रिटर्न 200% से अधिक हो गया है। इस पवन ऊर्जा कंपनी के स्टॉक में निवेश करने का यह बहुत अच्छा समय हो सकता है।

Suzlon Energy: उच्च बाजार पूंजीकरण और विश्वसनीय अनुमान

बीएसई पर Suzlon Energy का मार्केट कैप 34,000 करोड़ रुपये से अधिक है, जो कंपनी के मजबूत फोकस को दर्शाता है। आपको स्टॉक के 52-सप्ताह के उच्चतम और निम्न स्तर भी देखने को मिलते हैं, जिससे निवेशकों को विश्वास होता है कि यह एक स्थिर और लाभदायक निवेश हो सकता है।

Guar news today: आज ग्वार भाव में चरकाई, वायदा बाजार में 1.56% उछाल, ग्वार का मंडी भाव देखें

ब्रोकरेज फर्म जेएम फाइनेंशियल ने हाल ही में सुजलॉन को खरीदने की सलाह दी थी और 45 रुपये का लक्ष्य रखा था, जिससे साफ पता चलता है कि विशेषज्ञ भी इसकी क्षमता पर विश्वास करते हैं। यह सुजलॉन एनर्जी के लिए अच्छे दिनों का संकेत हो सकता है।

Suzlon Energy: 6 साल बाद मुनाफे में और 15 साल बाद कर्ज मुक्त

सुजलॉन एनर्जी ने 6 साल बाद 2023 की जून तिमाही में मुनाफा कमाया, यह एक महत्वपूर्ण नतीजा है। कंपनी ने अप्रैल-जून 2023 तिमाही में 101 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया, जबकि पिछले साल जून तिमाही में 66 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। इसके बाद कंपनी ने क्यूआईपी के जरिए 2,000 करोड़ रुपये जुटाए, जिसमें से 1,500 करोड़ रुपये का इस्तेमाल कर्ज चुकाने में किया गया। परिणामस्वरूप, सुजलॉन एनर्जी 15 साल बाद कर्ज मुक्त हो जाएगी, जिससे कंपनी की वित्तीय स्थिति मजबूत होगी।
Suzlon Energy: पवन ऊर्जा के क्षेत्र में अग्रणी

सुजलॉन एनर्जी एक ऐसी कंपनी है जो पवन ऊर्जा के क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है और इसकी राष्ट्रीय बाजार हिस्सेदारी 33% है। कंपनी के पास दुनिया भर में 20 गीगावॉट परिचालन पवन ऊर्जा क्षमता है, जो इसे इस क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी बनाती है। कंपनी को हाल ही में कई बड़े ऑर्डर मिले हैं, जैसे टेक ग्रीन पावर XI प्राइवेट से 3 मेगावाट पवन टरबाइन के लिए एक बड़ा ऑर्डर। लिमिटेड। इसके अलावा, कंपनी को इंटीग्रम एनर्जी इंफ्रास्ट्रक्चर से 31.5 मेगावाट पवन ऊर्जा परियोजना का ऑर्डर भी मिला। सुजलॉन एनर्जी बढ़ रही है पवन ऊर्जा क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान देने में।

अस्वीकरण: aajkamandibhan.in पोस्ट के माध्यम से लोगों को वित्तीय शिक्षा प्रदान करता है। म्यूचुअल फंड और शेयर बाजार में निवेश बाजार जोखिमों के अधीन हैं। हम सभी सेबी पंजीकृत वित्तीय सलाहकार नहीं हैं। आप अपना पैसा निवेश करने के लिए स्वतंत्र हैं। कृपया अपनी बुद्धि और विवेक से ही निवेश करें। निवेश से पहले पंजीकृत विशेषज्ञों से सलाह लें।

Some Error