FCI द्वारा दूसरे टेंडर की गेहूं बिक्री की जाएगी। जानिए गेहूं बाजार भाव पर इसका असर

आज FCI द्वारा दूसरे टेंडर के माध्यम से गेहूं बिक्री की जाएगी। कृषि एक्सपर्ट के मुताबिक गेहूं बाजार भाव इसका बहुत असर देखने को मिलेगा, क्योंकि दूसरे टेंडर में भी करीब 10-12 लाख टन गेहूं बिक सकता है। पिछले टेंडर में पोर्टल में आई तकनीकी खराबियों से बिक्री सही से नहीं हो पायी।

गत पूरे सीजन में किसानों को गेहूं के अच्छे दाम मिले, OMSS बिक्री न किये जाने से कीमतें अब तक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची। सभी आकड़ों को देखें तो के सभी रिकॉर्ड टूट रहे हैं। जैसे कि उत्पादन, निर्यात, खपत, कीमतें।

इस वर्ष भारत में गेहूं उत्पादन

कृषि विभाग द्वारा जारी दूसरे अग्रिम उत्पादन अनुमान के अनुसार इस वर्ष भारत में गेहूं उत्पादन 1121.82 लाख टन पहुँचने का अनुमान जबकि लक्ष्य 1120 लाख टन से अधिक, गत वर्ष गेहूं उत्पादन अनुमान 1077.42 लाख टन दिया गया, पहले अनुमान में 2021-22 में 1060 लाख टन का अनुमान दिया था। गत वर्ष के उत्पादन में 17 लाख टन की बढ़ोत्तरी दिखाई गयी। इस वर्ष गेहूं का एरिया व उत्पादन बढ़ना स्वाभाविक था।

गेहूं का भविष्य

 फ़िलहाल जल्दबाजी में इस तरह का कोई निर्णय नहीं लिया जायेगा क्योंकि अगर स्टॉक लिमिट लगाई जाती है तो एफसीआई द्वारा की गयी गेहूं की बिक्री रफ़्तार धीमी पड़ सकती है। उत्तर भारत में पिछले 3 दिनों से दिन व रात के बीच का तापमान घट रहा है हालाँकि फसल को फ़िलहाल कोई नुकसान नहीं परन्तु गेहूं का भविष्य आगामी मौसम पर निर्भर रहेगा।

OMSS स्कीम के तहत FCI द्वारा 15 फरवरी को गेहूं बिक्री

  • असम से 16,340 मीट्रिक टन गेहूं 2,300-2,420 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • झारखण्ड से 2,320 मीट्रिक टन एफएक्यू गेहूं 2,350 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • झारखण्ड से 1,900 मीट्रिक टन यूआरएस गेहूं 2,300 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • केरल से 6,310 मीट्रिक टन एफएक्यू गेहूं 2,350-2,385 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • केरल से 10,740 मीट्रिक टन यूआरएस गेहूं 2,300-,2325 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • तेलंगाना से 2,0000 मीट्रिक टन एफएक्यू गेहूं 2,405-2,410 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • उत्तराखंड से 2,720 मीट्रिक टन एफएक्यू गेहूं 2,350-2,370 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • उत्तराखंड से 1,980 मीट्रिक टन यूआरएस गेहूं 2,300-2,350 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • पश्चिम बंगाल से 24,270 मीट्रिक टन एफएक्यू गेहूं 2,350-2,560 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • पश्चिम बंगाल से 6,450 मीट्रिक टन यूआरएस गेहूं 2,300-2,325 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • त्रिपुरा (मिजोरम  NEF REGION) से 1,100 मीट्रिक टन एफएक्यू गेहूं 2,350 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • छत्तीसगढ़ से 3,900 मीट्रिक टन एफएक्यू गेहूं 2,350 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • छत्तीसगढ़ से 1,000 मीट्रिक टन यूआरएस गेहूं 2,300 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • उड़ीसा से 18,660 मीट्रिक टन एफएक्यू गेहूं 2,350-2,485 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।
  • उड़ीसा से 6,380 मीट्रिक टन यूआरएस गेहूं 2,300-2,310 रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर बेचा।

निष्कर्ष:- पहले OMSS स्कीम का माल गोदाम तक पहुँच चूका है जिसकी मिलिंग हो रही है. आगामी सप्ताहों में बाजारों में यह माल आने लगेगा। कीमतों को दबाने के प्रयास में कई ख़बरें जैसे कि OMSS के तहत अतिरिक्त बिक्री कोटा दिया जाना और स्टॉक लिमिट लगाना.

Some Error